शक्ति सागर झील के लिए तैयार होगी -मीणा नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के आदेश की पालना में हो रही कार्यवाही

Spread the love

शक्ति सागर झील के लिए तैयार होगी -मीणा
नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के आदेश की पालना में हो रही कार्यवाही
प्रमुख शासन सचिव खनन एवं जिला कलक्टर ने किया भराव क्षेत्र का दौरा
अजमेर, 02 जून। खरवा की सैकड़ों साल पुरानी शक्ति सागर झील में पानी का भराव सुनिश्चित करने तथा आवक के रास्तों से अवरोध हटाने के लिए विस्तृत कार्य योजना तैयार की जाएगी। प्रमुख शासन सचिव खनन श्री कुंजीलाल मीणा तथा जिला कलक्टर श्री विश्वमोहन शर्मा ने आज प्रशासनिक अधिकारियों के साथ झील के कैचमेंट एरिया का निरीक्षण कर जानकारी ली। अधिकारियों को इसके लिए पूरी तैयारी करने को कहा गया है।
प्रमुख शासन सचिव कुंजीलाल मीणा ने आज जिला कलक्टर शर्मा के साथ कई किलोमीटर क्षेत्र में फैले भराव क्षेत्र तथा पानी की आवक के क्षेत्र में बनी रूकावटों का मौके पर जाकर निरीक्षण किया। मीणा ने ऎतिहासिक शक्ति सागर झील और आसपास के छोटे तालाबों की कायाकल्प के लिए प्रशासन को विस्तृत कार्य योजना तैयार करने को कहा। झील के आसपास पानी की आवक के रास्तों को सुचारू किया जाएगा। इसके लिए गैर जरूरी एनीकट हटाने, खनन के गड्ढों को भरने तथा पाल व भराव क्षेत्र में अन्य जरूरी उपचार करने के लिए योजना तैयार होगी। इससे जुडे़ विभिन्न विभाग योजना तैयार कर काम शुरू करेंगे। खनन विभाग ने खानों के गड्ढे भरने का काम शुरू भी कर दिया है।
नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल द्वारा शक्ति सागर झील को लेकर दिए गए निर्देशों की पालना में यह कार्यवाही की जा रही है। करीब दो घंटे तक चले निरीक्षण में मीणा ने झील के भराव व पानी के आवक क्षेत्र  में विभिन्न संरचनाओं की गहनता से जानकारी ली। वे स्वंय अधिकारियों के साथ खान के गड्ढों तथा एनिकट संरचनाओं तक गए और देखा कि यहां से पानी किस तरह झील तक पहुंचेगा।
उन्होंने खान विभाग को निर्देश दिए कि झील के भराव क्षेत्र तथा इससे जुडे गोपाल सागर क्षेत्र में कई मीटर गहरे गड्ढों का मैप बनाकर इन्हें भरा जाए। खनन मालिकों तथा आसपास की बडी सीमेन्ट फैक्टि्रयों से इस कार्य में सहायता ली जाए। वहां से निकलने वाले वेस्टेज और मलबे से इन गड्ढों को भरा जा सकता है।
उन्होंने पहाडियों में बनाए गए एनीकट के लिए वन एवं सिंचाई विभाग के अधिकारियों से कहा कि एनीकट की प्रासंगिकता के अनुसार उनका आकार बदला जाए। श्री मीणा शक्ति सागर की पाल पर भी पहुंचे। वहां उन्होंने झील के भराव, पानी की आवक तथा सिंचाई आदि की जानकारी ली। इस अवसर पर मसूदा उपखण्ड अधिकारी मोहन लाल खटनावलिया, खान विभाग के एसएमई जय गुरूबक्षानी सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।
विजय कुमार पाराशर
आवाज राजस्थान की
9414302519

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *