मुख्यमंत्री का कोरोना जागरूकता संवाद जिले भर से हजारों नागरिक, जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी जुड़े ऑनलाइन |

मुख्यमंत्री का कोरोना जागरूकता संवाद  जिले भर से हजारों नागरिक, जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी जुड़े ऑनलाइन |
Spread the love

मुख्यमंत्री का कोरोना जागरूकता संवाद

जिले भर से हजारों नागरिकजनप्रतिनिधि एवं अधिकारी जुड़े ऑनलाइन

     अजमेर, 15 सितम्बर। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत के कोरोना जागरूकता संवाद को जिले में बड़ी संख्या में नागरिकों, जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों द्वारा ऑनलाइन जुड़कर देखा गया।

     जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री गजेन्द्र सिंह राठौड़ ने बताया कि कोरोना से बचाव के संबंध में मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत द्वारा देश के ख्याति प्राप्त चिकित्सकों के साथ ऑनलाइन परिचर्चा की। इसको विभिन्न डिजिटल प्लेटफार्म तथा वीसी के माध्यम से आमजन के लिए उपलब्ध करवाया गया। इस परिचर्चा को जिले में बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधियों, नागरिकों एवं अधिकारियों, कार्मिकों ने देखा।

     उन्होंने बताया कि जिलास्तर पर कलेक्ट्रेट स्थित वीसी रूम में संभागीय आयुक्त डॉ. आरूषी मलिक, जिला कलक्टर श्री प्रकाश राजपुरोहित, पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप, चिकित्सा विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ. गजेन्द्र सिंह सिसोदिया, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. के.के.सोनी सहित अधिकारियों ने भाग लिया। ब्लॉक स्तर पर स्थानीय वीसी रूम में प्रधान, उप खण्ड अधिकारी, विकास अधिकारी एवं गणमान्य नागरिक वीसी रूम में उपस्थित रहे। ग्राम पंचायत स्तर पर ई-मित्र प्लस के माध्यम से स्थानीय सरपंच, पंच, जनप्रतिनिधि एवं कार्मिक परिचर्चा से जुड़े।

     उन्होंने बताया कि परिचर्चा में मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी को हर व्यक्ति गंभीरता से लेते हुए अनिवार्य रूप से मास्क पहले, सोशन डिस्टेंसिंग रखे और हैल्थ प्रोटोकॉल की पूरी तरह से पालना करे तो लगातार बढ़ रहा कोरोना संक्रमण पूरी तरह से काबू में किया जा सकता है। वर्तमान समय की सबसे बडी आवश्यकता है कि कोरोना के प्रति जागरूकता को एक सामाजिक आंदोलन का रूप दिया जाए।

     उन्होंने बताया कि  इस जागरूकता संवाद का सोशल मीडिया प्लेटफॉम्र्स-फेसबुक, यूट्यूब के अलावा ई-मित्र प्लस सेंटर्स तथा वेबकास्ट के माध्यम से लाइव प्रसारण किया गया। राज्य मंत्रिमण्डल के सदस्य, सांसद, विधायक, राज्य के प्रशासन व पुलिस के अधिकारी, मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य, सीएमएचओ, पीएमओ एवं चिकित्सक, ग्राम पंचायत स्तर के जनप्रतिनिधि व कार्मिक भी इस परिचर्चा का हिस्सा बने। इस ओपन प्लेटफॉर्म जागरूकता संवाद में देश के विख्यात चिकित्सक मेदान्ता हॉस्पिटल, गुरूग्राम के एमडी डॉ. नरेश त्रेहान, आईएलबीएस, नई दिल्ली के निदेशक डॉ. एस.के. सरीन, नारायणा हृदयालय, बैंगलोर के अध्यक्ष डॉ. देवी शेट्टी ने प्रभाव तरीके से पंचायत स्तर तक के लोगों को कोरोना बचाव के लए उपयोग जानकारी दी ।

     उन्होंने बताया कि जिले में 4 हजार 839 व्यक्तियों ने मुख्यमंत्री की कोरोना विषयक परिचर्चा में भाग लिया। इनमें 247 सरपंच, एक हजार 495 वार्ड पंच, 789 पूर्व जनप्रतिनिधि तथा 2 हजार 251 सरकारी कार्मिक, सामाजिक कार्यकर्ता एवं अन्य व्यक्ति शामिल थे। पंचायत समिति अंराई से 219, भिनाय से 404, जवाजा से 870, मसूदा से 706, श्रीनगर से 814, किशनगढ़ से 390, पीसांगन से 875, केकड़ी से 286 तथा सरवाड़ से 275 व्यक्ति उपस्थित रहे।

स्मार्ट सिटी में मनाया गया अभियंता दिवस

     अजमेर, 15 सितम्बर। अजमेर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के घूघरा स्थित कार्यालय में डॉ मोक्षगुंडम विश्वेश्वरय्या का जन्म दिन अभियंता दिवस के रूप में मनाया गया।

     इस कार्यक्रम के दौरान अतिरिक्त मुख्य अभियंता श्री अविनाश शर्मा ने विश्वेश्वरय्या के जीवन शैली को ध्यान में रखते हुए अपने विचार व्यक्त किए।  उन्होंने कहा कि इंजीनियरिंग डिग्री करना कोई बड़ी बात नहीं है जब तक तकनीकी ज्ञान का उपयोग समाजोचित नहीं होता है। अतः अपने को हर समय नई नई चीजे सीखते रहना चाहिए। उसका उपयोग विकास के लिए अग्रसर होकर करना चाहिए।

     स्मार्ट सिटी के अधिशाषी अभियंता श्री अशोक रंगनानी ने अपने  विचारों में कहा कि हमें विश्वेश्वरय्या के जीवन से ईमानदारी, कार्यनिष्ठा एवं तकनीकि कुशलता की क्षमता अपने अंदर बढाने की प्रेरणा लेनी चाहिए।  अपने को छोटे बड़े सभी से सीखते रहना चाहिए । समय के साथ साथ अपने कार्य से जुड़ी हुई आधुनिक तकनीक का भी अध्ययन करना चाहिए। इनका उपयोग अपने काम में करना चाहिए एवं अभियंता की सोच सृजनात्मक होनी चाहिए।

     स्मार्ट सिटी के अतिरिक्त मुख्य अभियंता श्री अविनाश शर्मा ने विश्वेश्वरय्या के फोटो पर माला पहनाई एवं स्मार्ट सिटी के अधिशाषी अभियंता श्री अशोक रंगनानी ने उनकी फोटो पर पुष्प अर्पित किए। इस कार्यक्रम के दौरान अजमेर स्मार्ट सिटी लिमिटेड एवं पीएमसी स्मार्ट सिटी के कर्मचारी व अधिकारीगण उपस्थित रहे।

 

अनुकम्पा नियुक्त कनिष्ठ सहायकों की टंकण परीक्षा का परिणाम घोषित

     अजमेर, 15 सितम्बर। अनुकम्पात्मक नियुक्ति प्राप्त कनिष्ठ सहायकों की सितम्बर माह में आयोजित कम्प्यूटर टंकण गति परीक्षा नियमित एवं विशेष परीक्षा का परिणाम घोषित किया गया है। अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री मुरारीलाल वर्मा ने बताया कि नियमित परीक्षा का परिणाम 24.13 प्रतिशत तथा विशेष अवसर परीक्षा का परिणाम 50 प्रतिशत रहा।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *